Tech And Knowledge Ki Poori Jaankaari Sb Hindi Me..

Breaking

Showing posts with label History. Show all posts
Showing posts with label History. Show all posts

Saturday, July 18, 2020

July 18, 2020

लॉकडाउन हटाने की रणनिति में जुटी भाजपा सरकार, यह हो सकती है प्रक्रिया

कोरोनावायरस की वजह से पूरे देश में 25 मार्च से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन`लगा हुआ है। अगर केंद्र सरकार के आंकड़ों की मानो तो सरकार ने लॉकडाउन के कारण कोरोनावायरस से होने वालो से सक्रमण को पहले फेज में रोकने में कामयाब रही है। ऐसा माना जा रहा है। की लॉकडाउन पूरे देश से चरणबृद्ध  यानि अलग अलग फेज से हटाया जा सकता है। सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनोती ये है की 14 अप्रैल को लॉकडाउन ख़त्म हो जाता है, तो लोगो को निंयत्रित कैसे किया जाए इसके लिए जरूरी नीतिया बनानी होगी जैसे ही लॉकडाउन ख़त्म होगा लोग लाखो की तादार में घर से बाहर निकल कर सड़को पे आ जायेगे। 

lockdown ended after

इसे लेकर नरेंद्र मोदी जी ने ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कहा था की आप सभी अपने प्रदेशो में लॉकडाउन हटाया जा सके। इस पर अपने राज्यों  स्थिति के आधार पर रिपोर्ट तैयार करके केंद्र को भेजे। सूत्रों की मानो तो राज्यों द्वारा भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर और केंद्र मंत्रियो के स्टेट के Dm और SSP के Feedback के आधार पर केंद्र सरकार पर लॉकडाउनको हटाने की रणनीति तैयार करेगी। Central Government के के सूत्रों के हिसाब से लॉकडाउनको एक ही फेज में खोला जायेगा। लेकिन सभी राज्यों में कोरोना वायरस से ज्यादा प्रभावित जो इलाके है, वहा लॉकडाउन जारी रहेगा देश में जहा-जहा भी लॉकडाउन हटाया जायेगा वहा धारा 144 लगाई जाएगी ताकि 4 से ज्यादा लोग एक ही स्थान पे इकठे ना हो सके।

coronavirus

( Jalandhar Today Live News Click here )
लॉकडाउन खतम होने के बाद भी सभी अंतरराज्यीय  परिवहन प्रणाली को पूरी तरह से बंद रखा जायेगा, लेकिन कोई लॉकडाउन की वजह से किसी दूसरे State में फस गया हो, तो उसे परस्थिति के कारण पर ही अपने State वापस भेजा जायेगा, वो भी Corona Test होने के बाद। सभी प्रकार के Private यातायात माध्यम बंद रखे जायेगे, इसमें Bus Service,Taxi, Auto शामिल है, सिर्फ जरूरी सेवाओं को 30 अप्रैल तक बंद रखा जायेगा। हालत सुधरने पर चरणबृद्ध तरिके से सेवाएं शुरू हो जाएगी सभी राज्य सरकार अपने सरकारी सस्थानो और Private छेत्रो में काम करने वालो को रोस्टर के अनुसार काम करने का आदेश दे सकती है सभी राज्यों और सरकारों को इस सप्ताह के अंत तक लॉकडाउन हटाने पर अपनी रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेज देगी, वे ये भी बतायेगे की उनकी सरकार की क्या रणनीति है। 
July 18, 2020

कनाडा के बारे में 20 रोचक तथ्व

About कनाडा देश

interesting facts of canada


कनाडा देश जिसको मिनी पंजाब भी कहा जाता है और यहाँ पर सबसे ज्यादा पंजाबी लोग ही रहते है मलतब अगर कनाडा की जनसँख्या 100% है तो उनमे से 80% पंजाबी होंगे। वैसे तो भारत का बहुत ही खास रिश्ता रहा है अब तक कनाडा का साथ. और भारत के हर साल लगभग 30,000 लोग Canada जाकर बस जाते है और वहा की नागरिकता भी बहुत जल्द मिल जाती है तो दोस्तों आप लोग सोच ही रहे होंगे की ऐसा क्या है कनाडा में जो वहा जाने को लोग इतने-इतने पैसे खर्च कर देते है I Hope की लास्ट तक आपके मन में जो सवाल है आपको लास्ट तक उनके जवाब मिल जायेगा, तो दोस्तों जुड़े रहे हमारे तक End तक, तो चलिए शुरू करते है.

  1. कनाडा रूस के बाद सबसे बड़ा देश है। 
  2. कनाडा का नाम गलती से पड़ गया था जिसका अर्थ होता है "गाँव"
  3. The mall of American का मालिक एक कनाडियन है। 
  4. दुनिया में सबसे ज्यादा मैक्रोनी और पनीर कनाडा में खाया जाता है। 
  5. कनाडा दुनिया का सबसे पढ़ा-लिखा देश है.
  6. अगर हम बात ग्रेविटी की करे तो वो कनाडा में सबसे कम है। 
  7. कनाडा में आप सांप को public place के लेकर नहीं जा सकते, वरना आपको जेल भी हो सकती है। 
  8. पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा झीले कनाडा में है। 
  9. दुनिया की सबसे बड़ी बीच कनाडा में है। 
  10. कनाडा देश में जापान की राजधानी Tokyo से भी कम लोग है। 
  11. पूरी दुनिया की 20% साफ़ पानी कनाडा की झीलों में है। 
  12. Basketball का अविष्कार एक कनाडियन ने किया था। 
  13. कनाडा का National Park Switzerland से भी बड़ा है। 
  14. 2 करोड़ 62 लाख से ज्यादा कनाडियन American Border से 100 Miles की दूरी पर है। 
  15. America/Canada बॉर्डर दुनिया का सबसे बड़ा बॉर्डर है और यहाँ हर समय फौजियों की कमी रहती है। 
  16. कनाडा में चूहो का मालिक बन न आसान नहीं है। इसके लिए आपको Permission लेनी पड़ेगी वहा Government से।
  17. दुनिया के आधे अखबार कनाडा और अमेरिका में प्रकाशित किये जाते है। 
  18. कनाडा का official फ़ोननंबर 1-800-0-Canada से शुरू होता है। 
  19. कनाडा में अगर किसी चीज़ का दाम 10$ से ज्यादा हो. तो आप सीके नहीं दे सकते आपको नोट देना होगा फिर, नहीं तो आपको जेल हो सकती है। 
  20. कनाडा के चच्रिल में आप पर भालुओ का भी हमला हो सकता है इस लिए वह पर पैदल चलने वालो के लिए सरकार कहती है की जो भी वहा से गाड़ी लेकर गुज़रे वह अपनी गाड़ी के शीशे बंद कर के वहा से चले। 
End Lines 


तो दोस्तों Finally हमने आपको 20 Interesting facts कनाडा देश के बारे में बता दिए है अगर आपको  दी गई जानकारी अछि लगी Comment करके जरूर बताना। और पोस्ट को अपने दोस्तों में शेयर करना मत भूलना।

                           जय हिन्द जय भारत 

Sunday, May 12, 2019

May 12, 2019

Gautem Buddha About Full History

                        Life Of Gautam Buddha



buddha biography
pic credit to Picsaboy.com
जन्म और वंश (Birth and Parentage)

महात्मा बुद्ध जी का बचपन का नाम सिद्धार्त था, उनका जीवन 567 ईं: पू:लुंबिनी मे विशाख की पूर्णिमा को हुआ था, उनके पिता का नाम शुद्धोधन था शुद्धोधन का राज आधुनिक नेपाल की तराई मे है उस की राजधानी कपिल वास्तु है ये शाक्य सूरज वंशि कषत्रिअ साथ सम्बन्ध रखते थे इनका गाउत Gautam है यही कारण है की  बुद्ध को गौतम के नाम से जाना जाता है महात्मा बुद्ध की माता जी का नाम महा माइया, जो की गोरखपुर जिले की Ganraaj anjan की राजकुमारी थी बोधी कथाओ के अनुसार एक रात महात्मा बुध की आत्मा ने सफेद हाथी के रूप में रानी के पेट मे प्रवेश किया ज्योतषीऔ के पूछे जाने पर पूछे जाने पर पता लगा की यहाँ एक महान आत्मा का जनम होने वाला है उसके एक साल के  बाद रानी गर्भ से हुई बच्चे के जनम से पहले राजे से अपने घर जाने की आज्ञा मांगी रस्ते मैं वो लुंबिनी बाग़ मे रुके यहाँ उनको पीड़ा होनी शुरू हुई और उसने गौतम को जनम दिया इस लिए महा माया को कपिल वास्तु लाया गया यहाँ पर गौतम के जन्म सातवे दिन ऊनिकी माता की मौत हो गई थी so उनका पालन-पोषण उनकी मासी (प्रजापति गौतमी) ने किया जनम के सम्बन्ध ही अजीबो गरीब भविष्यवाणिया हुई Asit नाम के ज्योत्षी ने कहा की या तो यह बालक चक्रवर्ती राजा बनेगा या कोई महान धार्मिक पुरश


बचपन और शादी  (Childhood and marriage)


शुरू से ही शुद्धोधन के पालने पर बहुत ध्यान दिया उसने उनको कभी भी दुखी नहीं रहने दिया उसने हुक्म कर   दिए की राजकुमार कोई भी अप्रिय जीव न देखे इतना सब कुछ होने के बाद राज कुमार फिर भी बहुत ही गंभीर रहता था वो सिर्फ जन्म-मरन के विषय पर ही सोचता रहता था शुरू से ही वे पशु पक्षिओ के प्रति दया भावना रखते थे. गौतम का मन संसार के कामो मे  लगाने के लिए उसके पिता ने उनकी 16 साल की उम्र में शादी कोलिया गणराज की बहुत सुन्दर राजकुमारी यशोध्रा के साथ की उसके घर राहुल (बंधन) नाम के राजकुमार ने जन्म लिया पर घरशिति जीवन उसके जीवन मैं रुकावट न बन सका 

चार महान दृश्य(Four Great Sights) 

गौतम बुद्ध के जीवन असली change लाने वाले चार महान दृश्य थे उनके ही कारण वे अपने मार्ग निश्चित कर  सके कहते है की वो गुप्ती एक रथवान channa के साथ चार वार शहर देखने गए उन्होंने एक बूढ़ा आदमी,रोगी,मृत्यु शरीर और एक संस्यासी को देखा पर पहले 3 दृश्य ने उनके मन पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा. उसने देख लिया की संसार दुखो का घर है. पर उस सन्यासी को देख क्र उनका दिल बहुत खुश हुआ उसका जीवन उनको आदर्शमय लगा. सो उन्होंने फिर घर छोड़ने का फैसला लिया।

महान ग्रह त्याग (The great renunciation)

गौतम का मन बहुत दुखी रहने लगा वे घर बार सब कुछ छोड़ना चाहते थे पर उनको अपनी पत्नी और अपने बच्चो  का विचार आया आखिर एक रात वे अपनी पत्नी और बच्चे को सोते हुए छोड़के सच के खोज मे निकल गए. उस समय उनकी उम्र 29 साल की थी बुद्ध  धर्म में इस घटना को महान त्याग कहा गया है

ज्ञान प्राप्ति (Enlightenment )


घर छोड़ने के बाद वे राज ग्रह गए वह पर उन्होंने 2 ब्राहमण सन्यासी Alar-klaam और Udrak ramputar से दर्शन शास्त्र का ज्ञान प्राप्त हुआ पर उनको कोई भी शांति नहीं मिली इस से वे 5 शिष्य ले के उरुबला के जंगलो में चले गए वहा पर उन्होंने 6 साल तक घोर तपस्या की वे सुख के कांटा बन गए थे पर सच्चा ज्ञान उनको अभी भी नहीं प्राप्त हुआ वे इस सीटे पर पहुँच गए व्रत वगेरा बेफाईदा थे. इस से उनके 5 चेले नराज होके चले गए। अब वे गौतम अकेले ही Gya  की तरफ चले गए. वहा पर वे निरजला नदी के पास एक पीपल के वृक्ष निचे बैठ के चिन्तन करने लगे उन्होंने यह पका फैसला ले लिया था की  जब तक उनको ज्ञान प्राप्ति नहीं होती तब तक वे यहाँ से  हटेंगे वे पूरे सात दिन तक अखंड समाधि में लीन रहे वैसाख की पूर्णिमा वाले दिन उनको सच्चे ज्ञान की प्राप्ति हुई उस समय उनकी उम्र 35 साल की थी 

धर्म प्रचार (Preaching work)

ज्ञान प्राप्ति के बाद महात्मा बुद्ध  अपने ज्ञान का प्रचार करना शुरू किया उन्हने अपना पहला उपदेश अपने पुराने 5 चेलो को दिया  इस घटना को बुद्ध धर्म में धर्मचक्र परिवर्तन कहा गया है सारनाथ के बाद बुद्ध ने और कई जगहों पर जाना शुरू किया उन्होंने मगध के राजगृह,कपिलवस्तु etc. जगह पर जाके अपने धर्म का प्रचार किया उन्होंने मगध मे बुद्ध धर्म की नीह रखी. होली-होली  मगध के राजा और परजा सब उनके चेले बन गए. उनके पिता,पत्नी और पुत्र ने भी उनका धर्म स्वीकार कर लिय। उनके चचेरे भाई को उनसे बहुत नफरत हुई कई वार तो उन्होंने उनको मरवाने की कोशिस की, पर कोशिस नाकाम रही. लेकिन वे अपने धर्म प्रचार मैं लगे रहे.

महा परिनिवार्ण (Maha Parinivarn) 


महात्मा बुद्ध 45 साल तक महान  प्रचारक मैं रूप में काम करते रहे.वे आखरी समय महा प्रचारक करते हुए Pawa  पहुंचे।वह पर उनको पेचिस के रोग लग गए. इसके बाद वे कुशीनगर  पहुंचे 487 ई:पू: विशाख की पूणिमा के दिन ऊनहोने अपना शरीर छोङ दिया, उस समय उनकी ऊमर 80 साल की थी बूध धम॔ मे इस घटना को महा परीनिवारण कहा गया है।

Saturday, May 4, 2019

May 04, 2019

Punjab history

                                History Of Punjab


Punjab history 2019 update

About Punjab  Punjab 1 Nov. 1966 main bna tha Aur iska naam Punj-aab se bna hai jo ki apni 5 nadiye hai unse yeh naam liya gya hai,aur yeh 5 nadiyo ka partik hai aur isi din haryana bhi bna tha aur 1 Nov. ko punjab and haryana day bhi mnaya jata hai. aur punjab aur haryana ki Rajdhaani Chandigarh  hai. jo ki in dono ki common hai.Aur yeh ek Union Territory hai jo ki isko ek Governer control krta hai. isi liye yaha ka jo Governer hota hai voh bhut hi Powerfull hota hai aur isko bolte hai constitutional head  kehte hai Punjab aur Haryana ka jo high-court hai voh bhi Chandigarh hai.aur punjab ka chetrfal(area) hain. voh 50372Km2 square hai aur jo ki poore bharat ka area hai voh 1.56% hai.aur jo yaha ki Population hai 2,85,07,362 hai aur vaise toh yeh bdti rehti hai. aur yeh poore bharat ke hisab se 2.32% hai. Punjab  ek aisa state hai jiski sirhand Pakistan, Himachl pradesh, Haryana aur Rajsthan se lgti hai.Pkaistan ka Famous Baggah-Border (Amritsar) ke pass voh pakistan se lgta hai. aur punjab ka sbse bda Forest area hai voh 6.12% of punjab.

Largest forest area detail

* 1st largest forest area - Hoshiarpur
* 2nd largest forest area- Roopnagar
* 3rd largest forest area- Gurdaspur

Population denstiry

* Largest population density- Ludhiana
* Small population density- Muktsar  

Literacy rate 76.8%

* Largest literacy rate- Hoshiarpur 89%
* Small literacy rate- Mansa 63%


Sex ratio:- In 2011 according 893

* High sex ratio- Hoshiarpur
* Lower sex ratio- Bathinda


District details in according population:- 

* Largest district- Ludhiana
* Small district- Barnala

Govt. seat details

* Lok sabha- 13
* Rajya sabha- 7
* Vidhan sabha 17

First Speaker of vidhan sabha- Kapoor singh
First cm of Punjab- Gopi chand bhargav
First governor of Punjab- Chandulal Madhavlal Trivedi

First Speaker of vidhan sabha (After 1966)- Harbans singh
First cm of Punjab (After 1966) - Giani Gurmukh singh
First governor of Punjab (After 1966)- Dharmvira

State Bird Of Punjab  Baaz

State Animal Of Punjab- Black-Hiran
State Tree Of Punjab- sheeshem ka tree


Zoo Park in Punjab


* Mahindra chaudhary zoological park Mohali (also know as Chatbid zoo)
* Tiger safari Ludhiana
* Deer park bir Moti Bagh Patiala

Punjab 5 River Name

* satlluj
* Raavi
* Byaas
* Jehlam
* Jhnaab


Punjabi bhangra
                                                   (Pic credit to punjabviewdotcom.blogspot.com)



Intersting Facts Of Punjab  Punjab ka history ek aisi history hjo bht hi kurbaanio se bhri hui hai.aur punjab main sbse jyada sikh paaye jaate hai, vaise toh yaha bht cast hai but sbse jyada sikh hai ,aur punjab ki matr bhasha PUNJABI hai.aur yaha ke sb log punjabi bolte hai.punjab main sbse mashoor punjab ka bhangra hota hai jo ki hr country,state main famous hai aur yaha bht festival mnaaye jate hai jaise ki Lohri,basant panchmi,vaisakhi aur teeja hoti hai jo ki bht hi khusi se punjab main mnaya jaate hai Punjab main sbse jyada rice and gehu lgaai jaati hai. aur punjab ki film industry punjab main sbse tej bdne lg rahi aur famous bhi hai, punjab hi bharat ka parvesh dwaar kaha jata tha. toh videsi hmlaavro ko bharat main pahuchne se pehle punjab se hoke guzzrna pdta hai.aur yaha ke log bht hi bhadur the.aur punjab main srso ka saag, maki di roti aur lassi sbse favourtie khana mana jata hai punjabio ka.

To dosto bht hi shukria apka meri post dekhne ke liye so plz muje comment main jror btaye ki apko kaisi lgi meri post, agr achi lgi to share jroor krna.

May 04, 2019

History of computer

                  History Of Computer



;arial" , "helvetica" , sans-serif; font-size: medium;">
What Is a Computer Computer ek electronic machine hai, aur ye ek digital device hai aur ise personal computer bhi kaha jata hai aur yeh hmare bahut hi kaam ata hai, jaise ki celculation krni,Picture bnani,music,Word - processing, Record rakhna aur networking etc.
charless babbage
Charles Babbage  (Pics credit to CharlesBabbage.com)

History of Computer  1917 me scotland ke Sr jaohn Nepoier  ne isme sankhya ki shamta ka pta  chalta tha, jisko Nepoier bon kaha jata hai iske saath hum Multiplication, Subtraction, Partition bahut hi assant rike se ki jaati hai. ajj se 3000 years pehle china main Abacus name device ki khoj ki gai thi, jiske saath hisaab bahut hi asaani se kiya jata tha,  uske baad 1937 main Howord-icon ne 9 Tun ke ke weight wala computer bnaya, 1975-80 main aj ke computer ki khoj hui.
lear: both; text-align: center;">

First Generation computer First generation computer development in 1942-55
   * Iske option easy the.
   * Iski memory bahut hi km thi.
   * Iski accuracy bhi bahut km thi. 

Second Generation Computer  Second generation computer development in 1956-64
  * Iska size bahut hi km tha.
  * Iski speed bahut jyada thi.
  * Iski memory bhi bahut jyada ho gai thi.

Third Generation Computer  Third Generation Computer development in 1964-1971 main hui sbse pehle 1964 main ye prachlit hua.
 * Is computer ki speed bht hi jyada tej hogai thi
 * Iski memory bhi jyada ho gai thi.
 * Is main Time-shaving and Multi Processing Technology use ki gai.

 Fourth Generation Compuer Fourth Generation Compuer Development lagbhag1975 se agey shuru hua  means yeh computer 1970 to 1971 tk apne development main raha is generation ke computer   main mukhy roop se electronic youkt ek hi chip use kiya jane lga. is computer ko micro computer bhi kehte the. 1971 main ek Americi company ne pehli micro chip bnai.

Computer Three Parts In this following
 * CPU (Central Processing System)
 * VDU (Virtual Display Unit) ya Moniter
 * Key-board
old generation computer
How its work Computer ek asia system hai. jisko hum input kehte hai computer is input pe koi kaarvaai krta hai aur result jisko hum output bolte hai,ko deta hai.computer ke 3mukhy hisee hai.

* Input (kcha data)
* Cpu
* Outpur (Sahi information)


;"> What is the meaning of computer name  Computer ek Letin bhasha ke Word "Computer" se liya gya hai, jiska means hai calculate krna, ya phir kisi problem ka sollution nikalna is trah hum keh skte hai ki computerek machine hai jo Calculation krne se problem ka solution dhondta hai computer isproblem ko bahut hi jaldi se solution nikal deta hai.is trah computer ko ek tej chalne wali aur sahi kaam krne waali machine bol skte hai. ye apna sara data process krti hai aur sahi output deti hai

>


Toh shukria dosto is post main kuch itna hi likhna chauga aur meri jo agey ki post hogi, voh hai types of computer ,all details and all types of computer pics,Toh dosto main sehaj apka teh dil se bht hi shukria krta hai agr ap meri post achi lgi ho toh plz muje comment main jroor batana and share krna mat bhulna Thhanks Again g, So See now ....